Virendra Shehwag : पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं. वीरेंद्र सहवाग भारतीय टीम में नया बल्लेबाजी का कल्चर लेकर आए थे. धीमी बल्लेबाजी को तेज करने में इनका बहुत बड़ा हाथ है. लेकिन एक दिन ऐसा हुआ कि सहवाग उसको आज भी नहीं भुला पाएंगे. एक कोच ने सहवाग को उनकी परफॉर्मेंस के कारण थप्पड़ जड़ दिया था.

Virendra Shehwag : इस दिग्गज ने लगाया थप्पड़

भारतीय टीम 2002 में इंग्लैंड दौरे पर गई थी. इस दौरे की वनडे सीरीज खेली जा रही थी. वनडे सीरीज में वीरेंद्र सहवाग (Virendra Shehwag) अपने बल्ले से कोई खास प्रदर्शन नहीं कर पा रहे थे और वह बार-बार कम रन बनाकर आउट हो रहे थे. भारत के तत्कालीन कोच जॉन राइट को सहवाग पर गुस्सा आया और उन्होंने सहवाग को एक खींच के थप्पड़ लगा दिया. बीसीसीआई के वाइस प्रेसिडेंट राजीव शुक्ला ने इस बात का खुलासा 2013 में किया था.

सौरव गांगुली को जब इस बात का पता चला तो वह गुस्से में एकदम लाल हो गए और जॉन राइट को ढूंढने लगे. राजीव शुक्ला उस वक्त इंडियन टीम के मैनेजर थे. सौरव गांगुली ने मैनेजर से कहा कि जॉन को इस बात के लिए सहवाग से माफी मांगने पड़ेगी. राजीव शुक्ला ने जॉन से इस बारे में बात की.

Virendra Shehwag

Virendra Shehwag : जॉन राइट ने दी थी सफाई

जब राजीव शुक्ला ने जॉन राइट से बात की तो उन्होंने कहा, “मैंने केवल धक्का दिया है, थप्पड़ नहीं मारा है. बार-बार एक ही गलती कर रहा था मुझे उसकी गलती बर्दाश्त नहीं हो रही थी.”

दूसरी तरफ सौरव गांगुली एक ही बात पर अड़े हुए थे कि जॉन को सहवाग से माफी मांगनी पड़ेगी. राजीव शुक्ला ने बताया कि उस वक्त सचिन तेंदुलकर ने मुझे समझाया कि कुछ भी हो लेकिन जॉन राइट माफी नहीं मांगेंगे. राजीव ने कहा मुझे सचिन की बात का मतलब समझ आ गया था. अगर कोई माफी मांगेगा तो बाकी का क्या होगा.

Leave a comment

Your email address will not be published.