Sachin Tendulkar : दोस्तों दुनिया में मास्टर ब्लास्टर के नाम से जाने जाने वाले सचिन तेंदुलकर क्रिकेट से रिटायरमेंट ले चुके हैं लेकिन इस समय वह रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में हिस्सा ले रहे हैं। इंडिया लीजेंड्स के तरफ से खेल रहे सचिन तेंदुलकर अपने फैंस का पूरा ध्यान रखते हैं। सोमवार को इंडिया लीजेंड्स और न्यूजीलैंड लीजेंड्स के बीच मैच खेला जा रहा था जिसमें सचिन तेंदुलकर ने कुछ खास बच्चों को मैदान में बुलाकर मैच दिखाया और उनका दिल जीत लिया। हालांकि बारिश के चलते यह मैच तो पुरा ना हो सका लेकिन सचिन तेंदुलकर की इस बात ने सबका दिल जीत लिया।

सचिन तेंदुलकर ने इस मैच में मध्य प्रदेश राज्य के सीहोर जिले के 55 आदिवासी बच्चों को इंदौर के होल्कर स्टेडियम में भारत लीजेंड्स और न्यूजीलैंड लीजेंड्स के बीच खेले गए मैच में मैच देखने का मौका दिया। आपको बता दें कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का एक फाउंडेशन है इस फाउंडेशन की एक पहल के तहत इन बच्चों को बुलाया गया था। मीडिया के मुताबिक यह है 55 बच्चे ऐसे थे जो कि पहली बार किस स्टेडियम में जाकर इंटरनेशनल मैच देखे हैं। यह उनके लिए काफी गर्व की बात है और वह काफी खुश भी है।

Sachin Tendulkar

Sachin Tendulkar : बारिश की भेंट चढ़ गया मैच

भारत लीजेंड और न्यूजीलैंड लीजेंड के बीच रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज का यह मैच बारिश की वजह से पूरा नहीं हो सका। करीब 20000 दर्शक उस मैच का फिर से शुरू होने का इंतजार कर रहे थे लेकिन ऐसा नहीं हो सका। मैच फिर से शुरू नहीं होने की वजह से सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने स्टेडियम में बैठे सभी दर्शकों का धन्यवाद दिया जो कि आखिरी पल तक वहां बैठे मैच की उम्मीद लगाए हुए थे। इसके लिए सचिन तेंदुलकर अपने साथियों के साथ होलकर स्टेडियम का चक्कर लगा रहे थे। यह मैच बिना किसी रिजल्ट के ही रद्द हो गया।

इतना ही नहीं सचिन तेंदुलकर ने जितने भी बच्चे बुलाए थे उन सब से मुलाकात भी की है और उनके साथ काफी बातचीत की तथा उनको जीवन में आगे बढ़ने के लिए गुरु मंत्र भी दिया है। सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने बच्चों से कहा है कि “ जीवन चुनौतियों से भरा हुआ है लेकिन जो व्यक्ति इन सभी चुनौतियों का हल ढूंढता है वह असली विजेता कहलाता है।” इसके अलावा सचिन तेंदुलकर मध्यप्रदेश के ऐसे ही आदिवासी बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए विनायक लोहानी के परिवार फाउंडेशन के साथ भी मिलकर काम करने में लगे हुए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.