आईपीएल का 65वां लीग मैच मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच वानखेड़े के मैदान पर मंगलवार रात खेला गया। इस मैच में एक रोमांचक टक्कर के बीच ऑरेज आर्मी ने जीत दर्ज की और साथ ही प्लेऑफ के लिए अपनी उम्मीद को जिंदा रखा। सनराइजर्स हैदराबाद ( SRH) ने 3 रन से ये मैच अपने नाम किया। ये काफी रोमांचक मैच था। मैच में मुंबई इंडियंस के बल्लेबाजों ने वापसी की, लेकिन आखिर में मैच सनराइजर्स हैदराबाद के खाते में ही गया। मैच के बाद जब रोहित शर्मा बातचीत के लिए मौजूद हुए तब उन्होंने मैच में हार और टीम में युवा खिलाड़ियों को मौका मिलने की बात की।

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में 3 रनों से हार के बाद मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने पोस्ट मैच प्रजेंटेशन सेरेमनी में कहा कि, ”लगभग दूसरे से आखिरी ओवर तक, मुझे लगा कि गेम हमारे पास है। दुर्भाग्य से टिम डेविड रनआउट हो गए, लेकिन हमने सोचा कि हम उस रनआउट तक खेल में बहुत अधिक थे। यहां तक ​​​​कि दो ओवर के साथ जाने के लिए 19 रन, लेकिन दुर्भाग्य से हम गेम को अपनी तरफ नहीं कर सके। सनराइजर्स को उनकी हिम्मत को पकड़ने का श्रेय। यह एक बहुत ही तनावपूर्ण क्षण था।”

मुंबई इंडियंस

मुंबई इंडियंस की गेंदबाजी पर रोहित शर्मा ने कहा

आगे बात करते हुए मुंबई इंडियंस की गेंदबाजी पर रोहित शर्मा ने कहा कि,”हम चाहते थे भविष्य को ध्यान में रखते हुए कुछ चीजों को आजमाएं। हम कुछ लोगों को खेल की कुछ स्थितियों में दबाव में गेंदबाजी कराने की कोशिश करना चाहते थे। मुझे लगा कि उन्होंने 193 तक पहुंचने के लिए बहुत अच्छी बल्लेबाजी की, लेकिन जिस तरह से हमने चीजों को पीछे के छोर पर वापस खींच लिया एक अच्छा प्रयास था। बल्ले के साथ, हम काफी करीब आ गए लेकिन, इसे खत्म नहीं कर सके।”

“हमारे लिए यह बहुत अच्छा है। हम बस बक्से पर टिके रहना चाहते हैं, यदि संभव हो तो एक उच्च नोट पर समाप्त करेंगे। हम आखिरी गेम में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए अपनी तरफ से हर संभव कोशिश करेंगे। अगर कुछ और लोगों को आजमाने का मौका मिलता है तो हम भी ऐसा करने की कोशिश करेंगे।”

Leave a comment

Your email address will not be published.