भारतीय महिला क्रिकेट की शान और वनडे एवं टेस्ट टीम की कप्तान मिताली राज ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है. मिताली अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 232 वनडे मैच खेलकर 7805 रन बना चुकी है. वे 12 टेस्ट और 89 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी है. 39 वर्षीय मिताली राज पहले ही टी20 से संन्यास ले चुकी हैं और मार्च में वनडे विश्व कप में भारत का अभियान खत्म होने के बाद से उनके संन्यास लेने की खबर आर रही थी.

एक बयान जारी करते हुए मिताली राज ने फैंस को अपने इस फैसले की जानकारी दी. मिताली ने लिखा, “इतने सालों से आपके प्यार और सपोर्ट के लिए धन्यवाद. मैं अपनी दूसरी पारी के लिए आपके आशीर्वाद और सपोर्ट चाहूंगी.” मिताली ने आगे लिखा, “हर सफर की तरह, मेरे क्रिकेट करियर का भी एक मोड़ पर आकर अंत होना था. आज वो दिन है, जब मैं इंटरनेशनल क्रिकेट के हर फॉर्मेट से संन्यास ले रही हूं.

मैं मन में हमेशा भारतीय टीम को जिताने का इरादा लेकर मैदान में उतरी और उसके लिए पूरी कोशिश भी की. भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी करने का मौका मिला, उसे मैं हमेशा याद रखूंगी. मुझे लगता है कि अब मेरे लिए बल्ला टांगने का सही समय आ गया है. कई युवा खिलाड़ी हैं, जो टीम की बागडोर संभालने के लिए तैयार हैं. भारतीय क्रिकेट का भविष्य सुनहरा है.”

मिताली राज

मिताली राज : इतने सालों तक टीम की कप्तानी करना वाकई सम्मान और गर्व की बात

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान रही मिताली आगे लिखती है, “भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तान और एक खिलाड़ी के रूप में बीसीसीआई और सचिव जय शाह सर से मुझे जो सपोर्ट मिला, उसकी मैं शुक्रगुजार हूं. इतने सालों तक टीम की कप्तानी करना वाकई सम्मान और गर्व की बात है. मुझे इसने एक बेहतर इंसान बनने में मदद की और उम्मीद करती हूं कि भारतीय महिला क्रिकेट को इसका फायदा हुआ होगा.”

मिताली ने कहा, “एक खिलाड़ी के तौर पर मेरा यह सफर भले ही खत्म हो गया है. लेकिन, दूसरा इंतजार कर रहा है. मैं खुद को इस खेल से जोड़े रखना चाहूंगी. मैं भारत और दुनिया में वुमेंस क्रिकेट की बेहतरी और उसे बढ़ावा देने की दिशा में योगदान देने के लिए तैयार हूं. सभी फैंस का मुझे प्यार और सपोर्ट करने के लिए शुक्रिया.”

Leave a comment

Your email address will not be published.