तिरूवलूर जिला क्रिकेट संघ (टीडीसीए) के रजत जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शिरकत की। इस मौके पर धोनी ने कहा कि “पहली बार है जब मैं जिला संघ की सफलता के मौके पर आयोजित जश्न का हिस्सा बन रहा हूं। मैं अपने जिला क्रिकेट संघ (रांची) को भी शुक्रिया कहना चाहूंगा। क्रिकेटर्स को अपने जिले का प्रतिनिधित्व करने में गर्व महसूस होना चाहिए।”

धोनी ने आगे अपने वक्तव्य में कहा कि, ‘मुझे फक्र है कि मुझे अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला, लेकिन अगर मैं अपने जिले या स्कूल के लिए नहीं खेला होता तो यह मुमकिन नहीं होता।’

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी मुख्य अतिथि का तौर पर पहुंचे

बता दें कि टीडीसीए की रजत जयंती कार्यक्रम में महेंद्र सिंह धोनी मुख्य अतिथि का तौर पर पहुंचे थे। उनके साथ आईसीसी के पूर्व अध्यक्ष और बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष एन श्रीनिवासन भी मौजूद थे। धोनी वर्तमान में आईपीएल फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान हैं। माही की कप्तानी में चेन्नई ने चार बार आईपीएल खिताब अपने नाम किया है।

टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज धोनी दुनिया के इकलौते कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी के तीनों बड़े टूर्नामेंट में टीम इंडियाको जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया है। धोनी की कप्तानी में भारत ने साल 2007 में टी20 विश्व कप, साल 2011 में वनडे वर्ल्ड कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी हासिल की थी।

भारतीय क्रिकेट टीम ने धोनी की कप्तानी में 60 टेस्ट मैच खेले, जिनमें से 27 टेस्ट जीते, जबकि 18 हारे। 15 टेस्ट ड्रॉ रहे। वनडे की बात करें तो धोनी ने 200 वनडे में टीम इंडिया की कप्तानी की, जिसमें 110 जीते जबकि 74 में हार मिली। माही की कप्तानी में टीम इंडिया ने 72 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले, जिसमें टीम ने 41 जीते, जबकि 28 में हार का सामना करना पड़ा।

Leave a comment

Your email address will not be published.