भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने अगले 5 सालों के लिए आईपीएल 2023 से आईपीएल 2027 तक मीडिया के राइट्स 48000 करोड से अधिक में भेज दिए हैं। इसको लेकर बीसीसीआई और आईपीएल की चर्चा चारों तरफ हो रही है। लेकिन इन सब खबरों के बीच एक नाम गायब है जिसने इंडियन प्रीमियर लीग को जन्म दिया और उस शख्स का नाम है ललित मोदी।

ललित मोदी ने किया आईपीएल शुरू

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ललित मोदी वह शख्स है जिसके बारे में कहा जाता है कि आईपीएल उनके ही दिमाग की उपज है। इंडियन प्रीमियर लीग के मीडिया राइट्स अरबों में बिकने के बाद आईपीएल के जनक ललित मोदी की प्रतिक्रिया सामने आई है जिसमें उन्होंने अपना दर्द बताया है। वर्तमान में आईपीएल के तर्ज पर ही पूरी दुनिया में कई लीग खेले जा रहे हैं।

ललित मोदी

बात यह है कि मिहिर पुरोहित नाम के एक व्यक्ति ने ललित मोदी की याद में एक ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा था कि “बीसीसीआई को ललित मोदी साहब को शुक्रिया कहना चाहिए क्योंकि उनके बिना इंडियन प्रीमियर लीग संभव नहीं हो सकता थी।”

ललित मोदी का छलका दर्द

ललित मोदी ने इस ट्वीट पर कमेंट करते हुए अपना दर्द बताया है। उन्होंने लिखा कि “उन्होंने यहां तक कि मेरे नाम पर भी प्रतिबंध लगा दिया है इंडियन प्रीमियर लीग के किसी भी कमेंट्री के दौरान मेरा नाम अब नहीं लिया जाता है। उन्हें इस बात का डर है क्योंकि इसको बनाने के लिए उन्होंने कुछ भी नहीं किया है, लेकिन यह मुझे बिल्कुल भी परेशान नहीं करता है छोटा दिमाग और केकड़े की मानसिकता है इनकी। लेकिन इस तथ्य को वह मिटा नहीं सकते कि मैंने ही आईपीएल को बनाया है। मेरे लिए इतना ही काफी है।”

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आईपीएल का पहला सीजन ललित मोदी की अगुवाई में ही खेला गया था, ललित ही इसके पहले चेयरमैन थे। बाद में बीसीसीआई और उनके बीच रिश्ते खराब हो गए और उनके ऊपर 125 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगा था। इसके बाद ललित को प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत आरोपी घोषित किया गया था और उन पर केस भी चला था, जिसके बाद उन्हें देश छोड़ना पड़ा था।

Leave a comment

Your email address will not be published.