भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका टी20 सीरीज की शुरुआत से एक दिन पहले टीम को बड़ा झटका लगा. केएल राहुल को इस सीरीज के लिए रीम की कप्तानी सौंपी गयी थी, लेकिन ग्रोइन इंजरी के कारण वे इस पूरी सीरीज से बाहर हो चुके है. ऐसा पहली बार नहीं हुआ है, जब केएल राहुल को चोट के कारण किसी सीरीज से बाहर होना पड़ा हो. बीते 7 महीनों में वो चोट के चलते वे 4 बार टीम से बाहर हुए और 4 सीरीज में टीम इंडिया का हिस्सा नहीं रहे. इससे चयनकर्ताओं और बीसीसीआई के चिंता बढ़ गई है, बार-बार चोट लगने के कारण एक खिलाड़ी और कप्तान के तौर पर उन पर उतना भरोसा नहीं दिखाया जा सकता.

साथ ही इस चोट के बाद केएल राहुल का नाम भी रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव, रवींद्र जडेजा के साथ सबसे अधिक चोटिल खिलाड़ियों की लिस्ट में शुमार हो गए हैं। टीम इंडिया के लिए यह अच्छी खबर नहीं है, क्योंकि राहुल को भविष्य के कप्तान के रूप में देखा जा रहा है. लेकिन, इस प्रकार बार-बार चोटिल होकर टीम इंडिया से बाहर हो जाने के कारण सेलेक्टर्स के लिए भी यह चिंता बढ़ाने वाली बात है.

बीसीसीआई के सीनियर अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया, “चोट एक खिलाड़ी के जीवन का हिस्सा होता है और किसी के साथ भी ऐसा हो सकता है. एक खिलाड़ी के तौर पर आपको अपनी चोट की संख्या को कम करने के लिए खुद की बेहतर देखभाल करनी होती है. यह वाकई चिंता बढ़ाने वाला है, जब केएल राहुल जैसे अहम खिलाड़ी बार-बार चोटिल हो रहे हैं. एक बार जब वह एनसीए में आएंगे, तो हम फिजियो के साथ बातचीत करेंगे.”

केएल राहुल

इतनी बार चोटिल हुए केएल राहुल

नवंबर 2021: केएल राहुल बाईं जांघ में खिंचाव के कारण न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 टेस्ट की सीरीज से बाहर हो गए थे.
फरवरी 2022: केएल राहुल को वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के दौरान हैमस्ट्रिंग इंजरी हुई, जिसकी चलते वो 3 टी20 की सीरीज नहीं खेल पाए.
फरवरी 2022: राहुल हैमस्ट्रिंग इंजरी से पूरी तरह रिकवर नहीं हो पाए. इसी वजह से फरवरी के आखिरी हफ्ते में श्रीलंका के खिलाफ हुई 3 टी20 की सीरीज से बाहर हो गए.
मार्च 2022: इसी चोट के कारण ही केएल राहुल श्रीलंका के खिलाफ मार्च, 2022 में हुई 2 टेस्ट की सीरीज भी नहीं खेले.

केएल राहुल ग्रोइन इंजरी के कारण IND vs SA T20 सीरीज से तो बाहर हुए ही हैं. उनका इंग्लैंड दौरा भी खतरे में पड़ सकता है. राहुल को अपनी चोट से उबरने के लिए नेशनल क्रिकेट एकेडमी जाना होगा. ताकि वो इंग्लैंड दौरे के लिए फिट हो सके. भारत को इंग्लैंड दौरे पर 3 टी20, 3 वनडे के अलावा एक टेस्ट खेलना है

रोहित शर्मा के बाद टीम इंडिया के अगले कप्तान के तोर पर राहुल की ओर देखा जा रहा है. लेकिन उनके कप्तान बनने की राह में चोट रूकावट बन सकती है. अगर वे इसी प्रकार चोटिल चलते रहे तो सिर्फ उनकी कप्तानी ही नहीं, बल्कि एक खिलाड़ी के रूप में भी उनका करियर खतरे में पास सकता है. उनके पास अपने आप को साबित करने का यह अच्छा मौका था, ऋषभ पंत उनके स्थान पर दक्षिण अफ्रीका सीरीज में कप्तानी संभालेंगे और अब भविष्य के कप्तान के दावेदार के रूप में वो केएल राहुल से आगे निकल सकते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published.