IND vs ENG : इंग्लैंड के खिलाफ 5वें टेस्ट में 146 रन बनाकर भारत की पारी को सँभालने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कहा कि उन्होंने गेंदबाजों को मानसिक तौर पर परेशान करने की कोशिश की. पंत की शतकीय पारी से इंग्लैंड भले ही बैकफुट पर आ गया हो लेकिन टीम के सहायक कोच पॉल कोलिंगवुड ने कहा कि मेजबान टीम बिलकुल भी डरी हुई नहीं है. कोच का दावा है कि उनकी टीम वापसी करेगी.

पंत उस समय बल्लेबाजी के लिए उतरे जब भारत पांच विकेट 98 रन पर खो चूका था. पंत के शतक कि बदौलत भारत ने पहले दिन सात विकेट पर 338 रन बनाए. पंत ने 111 गेंद की पारी में 19 चौके और चार छक्के जड़े.

कॉलिंगवुड ने पहले दिन के खेल (IND vs ENG) के बाद कहा, ‘ मुझे नहीं लगता कि हम लंबे समय तक दबाव में रहेंगे लेकिन पंत की पारी को सलाम. जब आप विश्व स्तरीय खिलाड़ियों के खिलाफ खेलते हैं तो विश्व स्तरीय प्रदर्शन होता है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हम चौथी पारी में लक्ष्य का पीछा करने से डरते नहीं है. न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों में हमारे प्रदर्शन से स्पष्ट है कि हम विरोधी टीम से डरते नहीं हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम पारंपरिक टेस्ट क्रिकेट नहीं खेल रहे. हम ज्यादा से ज्यादा आक्रमण की कोशिश करते हैं और विकेट चटकाने का प्रयास करते हैं. हम रन रेट गिरने नहीं देना चाहते.’’

IND vs ENG

IND vs ENG : इंग्लैंड में सबसे महत्वपूर्ण है गेंदबाज की लय बिगाड़ना

ऋषभ पंत ने कहा, ‘‘इंग्लैंड में सबसे महत्वपूर्ण है गेंदबाज की लय बिगाड़ना. ऐसा मेरा मानना है.’’ इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स और तीन विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने पंत पर शॉर्टपिच गेंदों से हमला बोला लेकिन वह सहज होकर खेलते रहे. उन्होंने कहा ,‘‘ मैने एक जैसे शॉट्स नहीं खेले बल्कि विविधता लाने की कोशिश की. कई बार बाहर निकला तो कई बार बैकफुट पर खेला. मैंने क्रीज का बखूबी इस्तेमाल किया. गेंदबाज पर मानसिक दबाव बनाने की बात थी , कुछ पहले से तय नहीं था. मैंने इसी पर फोकस रखा कि गेंदबाज क्या करने वाला है.’’

पंत ने कहा कि उन्होंने अच्छी गेंदों का सम्मान किया और अपने डिफेंस को भी मजबूत रखा. (IND vs ENG) विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, ‘‘मैंने अपने डिफेंस पर काफी काम किया. मेरे कोच तारक सिन्हा सर ने मुझे बरसों पहले बताया था कि आप किसी भी गेंदबाज पर आक्रमण कर सकते हैं लेकिन डिफेंस पर उतना ही ध्यान देना जरूरी है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं कई बार अलग तरह के शॉट खेलता हूं लेकिन गेंद को पीटा जा सकता है तो पीछे नहीं हटता.’’

Leave a comment

Your email address will not be published.